Disruptive Marketing क्या है ? पूरी जानकारी हिंदी में

0

आज के समय में एक नया बिजनेस शुरू करना और उससे तेजी से Profit कमान काफी मुश्किल बात हैं। लोगो को बेहतरीन ग्राहक बनाते बनाते सालो भी लग जाते हैं जब जाकर कही बिजनेस सेट माना जाता हैं।

लेकिन जिस व्यक्ति को Marketing की अच्छी समझ हो उसके लिए Business को आगे बढाना भी काफी आसान हो जाता हैं। Marketing एक नही बल्कि कई तरह की हो सकती हैं। आज के इस लेख में हम Disruptive Marketing क्या हैं (Disruptive Marketing in Hindi) के विषय में बात करेंगे ।

Disruptive Marketing

आज के कंपटीशन से भरे इस जमाने में बिजनेस को आगे बढ़ाना काफी मुश्किल हो चुका है। अगर आप को तेजी से अपने बिजनेस को Grow करना हैं तो आपको यह पता होना चाहिए कि किस प्रकार की मार्केटिंग आपके Business के लिए सबसे बेहतर होगी।

आपको हमेशा उसी मार्केटिंग का चुनाव करना चाहिए जो आपके बिजनेस के लिए सबसे अधिक प्रॉफिटेबल और अफॉर्डेबल हो। आज के इस लेख में हम Disruptive Marketing Kya Hai और Disruptive Marketing Ke Fayde के विषय में बात करेंगे। तो चलिए शुरू करते हैं।

Disruptive Marketing क्या हैं ? Distruptive Marketing Kya Hai (Distruptive Marketing in Hindi)

Disruptive Marketing सबसे सफल और बेहतरीन मार्केटिंग तकनीको में से एक मानी जाती हैं। Disruption का मतलब ‘व्यवधान’ होता हैं। यह एक Marketing कम और पूरा Business Model अधिक लगता हैं। Disruptive Marketing के सिद्धांत के अनुसार कम्पनी Emerging Market में उतरती हैं, पहले से चल रहे Products के एक नए रूप के साथ।

उदाहरण के तौर पर अभी Video Market बढ़ता जा रहा हैं तो YouTube के बाद Facebook और Instagram पर भी Video Streaming होने लगी हैं। आज के समय में भी अधिकतर कम्पनिया Market में उतरती है और अपने बेहतरीन Products को कॉम्पटीटर के प्रोडक्ट से तुलना करती हैं। इससे ग्राहकों का आकर्षण नई कम्पनी की तरफ बढ़ता हैं।

यही Disruption Marketing हैं। Disruption Marketing की एक बड़ी समस्या Messeages को Shift करने वाले हठी उपभोक्ता बन चुके हैं। इससे निपटने के लिए कम्पनी को अपने उत्पाद या सेवा को एक नया रूप देना होता हैं, अपने उपभोक्ताओं को समझना होता हैं जिससे की उपभोक्ताओं को वह मिल सके जो वह चाहते हैं। Disruptive Marketing को आधार मानने वाली किसी कम्पनी के 2 Goals होते हैं:

  1. किसी Emerging Market की डिमांड के अनुसार Product और Service तैयार करना।
  2. मार्केट में जो प्रोडक्ट पहले से मौजूद हैं उनके बेहतर रूप को Market में लाना जिससे की Unsatisfied Clients को अपनी तरफ लाना।

जब कम्पनी ऐसा करती हैं तो वह Market में पहले से मौजूद Products को टारगेट करके चेलेंज करती हैं। इससे ग्राहको का ध्यान कम्पनी पर जाता हैं। ग्राहकों को बताया जाता हैं की यह प्रोडक्ट बाजार में पहले से मौजूद प्रोडक्ट से अधिक बेहतर हैं। इस प्रकार की Marketing को ही Disruptive Marketing कहते हैं।

वैसे तो Disruptive Marketing किसी भी बिजनेस फील्ड में की जा सकती हैं लेकिन मुख्यतः Computer, Phones, Laptops, Tablets, Web या अन्य Electronic Devices निर्माता कम्पनिया ही इसे सबसे ज्यादा उपयोग करती हैं।

जिस तरह से Technology का फील्ड तेजी से आगे बढ़ता जा रहा हैं उसे देखते हुए हर फील्ड आधारित कम्पनी को Disruptive Marketing की जरूरत होती हैं। Disruptive Marketing का एक छोटा से उदाहरण समझते हैं।

आपको याद  होगा जब Oneplus 6 लॉन्च हुआ था तो हर जगह इसी फ़ोन की बाते थी। इसके बाद Poco F1 मार्केट में आया जो कम दाम में Oneplus 6 वाले कई फीचर्स दे रहा था। कम्पनी ने इस फ़ोन का प्रचार कुछ इस तरह किया जिससे की लोगो को साफ पता चले की यह फ़ोन Oneplus 6 से बेहतर हैं और कम कीमत में आ रहा हैं। इस वजह से Poco F1 की काफी Sales भी हुई। जिस तरह से Poco F1 ने मार्केटिंग की, इसे Disruptive Marketing कहा जा सकता हैं।

Disruptive Marketing कैसे की जाती हैं ? How Disruptive Marketing is done in Hindi ?

Disruptive Marketing हर कोई कम्पनी नही कर सकती हैं। Disruptive Marketing के लिए कम्पनी को अपने व्यवसाय का इंफ्रास्ट्रक्चर में बदलाव करने पड़ते है या फिर पूरा इंफ्रास्ट्रक्चर भी बदलना पड़ सकता है।

कोई भी कंपनी जो Disruptive Marketing को आधार मानती है उसे ऐसे Products निकालने होते हैं जो Market की Need हो। इसके बाद उन्हें Existing Product से बेहतर बनाना होता हैं। एक Disruptive Marketing Campain शुरू करने में पहला स्टेप कम्पनी के ढांचे को इस तरह से तैयार करना होता हैं की वह डिमांडिंग बाजार में मौजूद अन्य कम्पनियो से बेहतर प्रोडक्ट्स दे सके।

कंपनी केवल अपने ब्रांड के बारे में ग्राहकों को बचाने की कोशिश कर रही है या फिर Product या Service को ही पूरी तरह से Reshape कर रही है अर्थात बदल रही हैं। Disruptive Marketing में तेजी से बदलाव का नियम फॉलो किया जाता हैं।

इसके बाद Marketing Team को Market में मौजूद ग्राहक और अन्य मौजूदा कम्पनियो के Current Data की जरूरत पड़ती हैं। मार्केटिंग टीम को यह बात समझ नहीं होती है कि ग्राहक इन प्रोडक्ट्स या सर्विसेज को क्यों खरीद रहा है ! इसके बाद ही काम को आगे बढाया जा सकता हैं। यह Data कलेक्ट करने के लिये खुद ग्राहक बनकर Products को परखा जा सकता हैं, Surveys किये जा सकते हैं, Interviews किये जा सकते हैं और Reviews की रिपोर्ट को देखा जा सकता हैं।

एक बार जब Market और ग्राहकों को अच्छे से समझ लिया जाता हैं उसके बाद उसके अनुसार Product तैयार किया जाता हैं। इसके बाद Marketing Team एक ऐसी Strategy तैयार करती हैं जिससे Market के Effective Media Channels का इस्तेमाल किया सके।  इसके अलावा Product की ऑनलाइन प्रजेंस भी तैयार  की जाती हैं। डिज़ाइन टीम Product के लिए Content तैयार करती हैं, Unique Sales Position के साथ Social Media Presence बनाती हैं।

Campaign को Launch करने से पहले Executive के द्वारा Consistent Brand Guidelines और Marketing Messages तैयार किये जाते हैं। Campaign के Establish होने के बाद Marketing Team के द्वारा स्ट्रेटेजी और उससे होने वाले Profit का अध्यन किया जाता है ताकि अगली बार अधिक Profit कमाया जा सके।

So Guys, उम्मीद हैं आपको हमारी यह Disruptive Marketing पर आधारित लेख पसन्द आया होगा। इस लेख में हमने Disruptive Marketing क्या हैं (Disruptive Marketing Kya Hain) और ‘Disruptive Marketing की पूरी जानकारी पर बात की। अगर आपको अब भी Disruptive Marketing से जुड़ा हुआ कोई सवाल हो तो हमे Comment करके जरूर बताये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.